fbpx

शिवसेना हिंदुस्तान के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने जिलाधीश कार्यालय तक निकाला मौन रोष मार्च

लुधियाना ( गगन शर्मा ) शिव सेना हिंदुस्तान के राष्ट्रीयप्रमुख माननीय पवन गुप्ता के दिशा निर्देशों पर पार्टी की पंजाब इकाई द्वारा राज्य के सभी जिलों में जिलाधीश कार्यालय तक रोष मार्च निकाले गए।इसी लड़ी तहत लुधियाना इकाई द्वारा जिला प्रमुख बौबी मित्तल व् दविंदर भागरिया की देखरेख में पार्टी के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं द्वारा मुँह पर काली पट्टियाँ बांध कर स्थानीय भारत नगर चौक से जिलाधीश कार्यालय तक मौन रोष मार्च निकाला गया।मौन रोष मार्च में शिवसेना हिंदुस्तान के राष्ट्रीय महामंत्री कृष्ण शर्मा,कार्यकारी पंजाब प्रमुख संजीव देम,पंजाब प्रवक्ता चन्द्रकान्त चड्ढा,संगठन मंत्री चन्द्र कालड़ा,ट्रांसपोर्ट सेल प्रमुख मनोज टिंकू,युवा सेना प्रमुख मनी शेरा,व्यापार सेना प्रमुख गौतम सूद व् अधिवक्ता सेना प्रमुख एडवोकेट नितिन घंड विशेष रूप से शामिल हुए।

जिलाधीश कार्यालय पहुंचकर शिवसैनिकों द्वारा जिला प्रशासन के माध्यम से पंजाब के गर्वनर वीपी सिंह बिदनौर के नाम माँगपत्र सौंपा।गर्वनर को भेजे माँगपत्र की जानकारी देते हुए कृष्ण शर्मा,संजीव देम व् चन्द्रकान्त चड्ढा ने बताया कि पंजाब में कानून व्यवस्था दिन ब दिन बिगड़ती दिखाई पड़ रही है व् आपराधिक तत्व सरेआम गोलियाँ चलाकर पंजाब में अमन शांति के माहौल को बिगाड़ रहे है।पिछले दिनों कामरेड बलविन्दर सिंह की खालिस्तानी आतंकियों की शह पर सरेआम घर मे घुसकर गोलियां मारकर हत्या करने की घटना की कड़ी आलोचना करते हुए शिवसेना हिंदुस्तान के नेताओं ने कहा कि देश की एकता अखण्डता के लिए खालिस्तानी आतंकियों का वीरता से मुकाबला कर सफाया करने वाले शौर्य चक्र से सम्मानित कामरेड बलविन्दर सिंह की सरेआम हत्या होना पंजाब में कानून व्यवस्था व् पंजाब पुलिस के खोखले दावों के विफल होने का प्रमाण दे रहे है।

उक्त नेताओं ने अफ़सोस जताते हुए कहा कि पहले टांडा में 6 वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म कर उसे बेरहमी से जला कर मारने व् फिर लुधियाना में चलती गाड़ी में युवती से बलात्कार जैसे जघन्य अपराध होने कानून व्यवस्था पर बड़े सवालिया निशान खड़े कर रहे है।वहीं शिवसेना नेताओं ने दशहरे पर्व पर खुफिया तंत्र के सभी दावों को खारिज करके असामाजिक तत्वों द्वारा सोची समझी साजिश के तहत हिन्दू धर्म की आस्था के केंद्र भगवान श्री राम के पुतला दहन करना कतई बर्दाश्त नहीं होगा।कृष्ण शर्मा,संजीव देम व् चन्द्रकान्त चड्ढा ने अफसोस जाहिर करते हुए कहा कि विदेशो में किसी अन्य धर्म पर होने वाली छोटी सी घटना पर तुरन्त सोशल नेटवर्क और समाचार पत्रों में बोलने वाले पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह की भगवान श्री राम के पुतले दहन होने की घटना पर कोई भी प्रतिक्रिया न आने से हिन्दू समाज मे बेहद रोष की लहर है।

उक्त नेताओं ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि पंजाब में 45 प्रतिशत हिन्दू समाज से सौतेला व्यवहार किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा इसीलिए शिवसेना हिंदुस्तान पंजाब के गर्वनर वीपी सिंह बिदनौर जी से मांग करती है कि पंजाब में कानून व्यवस्था कायम करने को लेकर पंजाब पुलिस के डीजीपी स्तर से लेकर निचले स्तर पर बड़े फेरबदल किये जाए,कामरेड बलविन्दर सिंह की सुरक्षा वापिस लेने के आदेश जारी करने वाले अधिकारियों की जिम्मेदारी तय कर उक्त अधिकारियों पर कानूनी कार्रवाई की जाए,दशहरे पर्व पर भगवान श्री राम के पुतले को दहन करने वाले आरोपियों पर धारा 302 लगाकर उन्हें फांसी पर लटकाया जाए।

इस अवसर पर शिवसेना हिंदुस्तान के सीनियर नेता कृष्ण लाल बांसल,व्यापार सेना लुधियाना उपाध्यक्ष कुणाल सूद,शहरी प्रमुख गगन गग्गी,उपाध्यक्ष योगेश बांसल,रोहित जिंदल,नरिंदर भारद्वाज,संजय कुमार,कन्हैया लाल,विजय कुमार,लक्ष्मण यादव,दीपू धवन,रवि कुमार,भागीश जैन,लक्की कुमार,केशव बांसल,गोलू गोस्वामी,अमित बतरा,विक्की नागपाल,संजीव रिहान,गगन कुमार आदि शिवसैनिक उपस्थित थे ।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.